आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भूमिका और दायित्व महत्वपूर्ण – विधानसभा उपाध्यक्ष अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं का होगा सम्मान बेटी है अनमोल योजना के तहत 37 लाख 32 हजार रुपए की धनराशि व्यय कोविड का नया वेरिएंट चिंता का विषय लोग रखें एहतियात

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

Ads

चंबा । विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ हंसराज ने कहा कि कोविड के दौरान उत्कृष्ट कार्य निष्पादन करने वाले सभी अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं, अध्यापकों, पंचायती राज संस्थाओं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के सम्मान के लिए जल्द एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा ।

कार्यक्रम में विधानसभा क्षेत्र चुराह से संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किए जाएंगे।
यह बात विधानसभा उपाध्यक्ष ने आज महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ जल शक्ति विभाग के विश्राम गृह तीसा में आयोजित बैठक की समीक्षा के दौरान कही ।

उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की समाज में महत्वपूर्ण भूमिका और दायित्व है। डॉ हंसराज ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि अपने क्षेत्र के सभी लोगों को कोरोनावायरस के नए वेरिएंट के प्रति सतर्क रहने और सरकार द्वारा निर्धारित सभी दिशानिर्देशों का पालन सुनिश्चित बनाने के लिए लोगों को प्रेरित करें ।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का नया वेरिएंट चिंता का विषय है और लोग को सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित बनाया जाना चाहिए ।

उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाई जा रही केंद्रीय व प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं को
प्रभावी तरीके से लोगों तक पहुंचाने के निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि बेटी है अनमोल योजना में तीसा वृत्त में जारी वित्त वर्ष में 611 लाभार्थियों को लगभग 37 लाख 32 हजार रुपए की धनराशि का लाभ दिया गया है। इसके लिए उन्होंने विभाग के इस कार्य की सराहना की।

उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से आह्वान भी किया कि कोविड टीकाकरण के लिए लोगों को अधिक से अधिक प्रेरित करें ।

बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा बालकृष्ण शर्मा ने बैठक में अवगत कराया कि वृत्त तीसा में शगुन योजना के तहत वित्त वर्ष में 8 लाख 37 हजार की राशि 27 लाभार्थियों , मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत 14 लाभार्थियों को 7 लाख 14 हजार की राशि जबकि मदर टेरेसा योजना के अंतर्गत 165 माताओं व 267 बच्चों को लगभग 8 लाख की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

बैठक में जिला महामंत्री वीरेंद्र ठाकुर ,अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष गोविंद ,सुपरवाइजर पूजा कुकरेजा, माया, रीता, धनी सहित सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रही।