सीएम सरकारी खर्चे पर आए जनता को अनदेखा करके चले गए : चौधरी राम कुमार

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

सोलन(बद्दी) : प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एंव पूर्व विधायक दून राम कुमार चौधरी ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री सरकारी खर्चे पर आए और जनता की समस्याओं को अनदेखा करके चले गए। विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों ने उनसे मुलाकात करनी थी लेकिन किसी को भी सीएम से मिलने नहीं दिया गया।

फोरलेन को लेकर चल रही भवनों की तोड़फोड़, मुआवजों की समस्याएं, रेलवे की जमीनों को लेकर लोगों की समस्याओं समेत हजारों परेशानियों से लोग जूझ रहे हैं। लेकिन प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को लोगों की समस्याओं से कोई सरोकार नहीं है। कांग्रेस के समय में स्वीकृत किया गया लक्कड़ डिपो पुल आज सीएम के दौरे के चलते बंद कर दिया गया। जबकि पिछले कई दिनों से उस पुल से वाहनों की आवाजाही हो रही थी और जाम की समस्या से छुटकारा मिला था।

राम कुमार चौधरी ने कहा कि 4 साल में दून में भाजपा कांग्रेस के समय के स्वीकृत कामों को ही करवा पाई। इसके अलावा क्षेत्र के विकास के लिए कुछ नहीं किया जा सका। जिस उद्योग का मुख्यमंत्री उद्घाटन करने आए थे वह भटौलीकलां का प्रदूषित उद्योग है,

जिसने आसपास के क्षेत्र में काली राख फैला रखी है। इस उद्योग से दिन रात निकलने वाले काले धूंए से लोग अस्थमा व सांस की बीमारियों से जूझ रहे हैं। नये बने इस उद्योग के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। इस उद्योग का माल लेकर आने वाले ट्रक सडक़ किनारे खड़े रहते हैं और उद्योग के आगे लगभग आधा दर्जन सड़क हादसे हो चुके हैं। 2 घंटे के लिए मुख्यमंत्री उद्योग में मेला देखने आए और वापस चले गए जो कि निंदनीय है और सरकारी पैसे की बर्बादी है। राम कुमार चौधरी ने कहा कि प्रदेश को सबसे अधिक राजस्व देने वाले औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन को 4 सालों में अनदेखा किया गया। सरकार बस उद्योग व उद्योगपतियों की ललोचप्पो करती रही,

लेकिन क्षेत्र के विकास और जनता की समस्याओं को अनदेखा किया गया। लोगों को मुख्यमंत्री के दौरे से उम्मीदें थीं, विकास की किसी घोषणा का लोग इंतजार कर रहे थे। लेकिन सरकारी खर्चे पर आए मुख्यमंत्री जनता को झुनझुना थमा कर चले गए। राम कुमार चौधरी ने कहा कि दून व बीबीएन क्षेत्र की अनदेखी का खामियाजा सरकार को आने वाले विस चुनावों को भुगतना पड़ेगा।