शिमला के जाखू क्षेत्र में तेंदुए ने युवक को किया लहुलुहान ,फिर से लोगों में तेंदूए की दहशत,

 शिमला के जाखू क्षेत्र में तेंदुए ने युवक को किया लहुलुहान ,फिर से लोगों में तेंदूए की दहशत,डर के साये में स्थानीय निवासी

Ads

 

राजधानी शिमला में तेंदुए ने युवक पर हमला कर उसे लहूलुहान कर दिया । एक बार फिर तेंदुए की दहशत राजधानी में बढ़ गयी है ।

यह मामला जाखू के फाइव बैंच के समीप हुआ। फाइव बेंच में रहने वाला 23 वर्षीय विजय काम से बुधवार देर रात्रि अपने घर को लौट रहा था।जब वह जाखू क्षेत्र को जाने वाले मार्ग पर अपने घर की ओर लौट रहा था तो उस समय जाखू के समीप प्राथमिक पाठशाला से कुछ दूरी पर घात लगाकर बैठे तेंदुए ने अचानक युवक पर हमला कर दिया। तेंदुए से जिंदगी की जदोजहद करने के बाद वह किसी तरह जान बचाकर वहाँ से भाग गया. लेकिन तेंदुएँ के हमले से हाथ पूरी तरह लहूलुहान हो गया है. विजय को IGMC में ईलाज के बाद विजय को छुट्टी दे दी गई है।  शिमला के निजी होटल में शैफ का काम करने वाले विजय ने बताया कि वह बुधवार रात करीब 11:15 बजे होटल से काम करके घर लौट रहा था। जब वह 11:45 पर अपने घर फाइव बेंच जा रहा था उसी समय प्राथमिक पाठशाला के समीप मार्ग में घात लगाकर बैठे तेंदुए ने अचानक उस पर हमला कर दिया। ऐसे में वह तेंदुए से करीब 5 मिनट तक लड़ता रहा और बड़ी मुश्किल से तेंदुए से जान बचाकर हॉली लॉज की ओर भाग खड़ा हुआ।उस समय रास्ते पर कोई नही था। उसके बाद उन्होंने घर में फोन किया जिसके बाद उन्हें गाड़ी से आईजीएमसी अस्पताल ले जाया गया। उन्होंने बताया कि कम लाइट होने की वजह से उन्हें तेंदुआ दिखाई नही दिया हालांकि मोबाइल की रोशनी से वह घर की ओर जा रहा था।रास्ते मे स्ट्रीट लाइट्स न होने के कारण उन्हें अचानक आता तेंदुआ नजर नही आया। उन्होंने प्रशासन से अपील की है कि यहां की लाइट व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए और तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरे भी लगाए जाएं।