संकटकाल के नायक: परिवार से दूर रहकर निभा रहे ज़िम्मेदारी आनी के डॉ. प्रवीण 

आदर्श हिमाचल ब्यूरो
आनी। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से पूरा विश्व जूझ रहा है जिसका असर सीधे तौर पर अब हिमाचल में भी दिख रहा है। हिमाचल में भी दिन-प्रतिदिन कोरोना संक्रमण के पॉजिटिव मामले सामने आने से लोग सहमे हुए हैं ।
संकट की इस घड़ी में कई ऐसे नायक हैं, जो अपनी जान की परवाह किए बैगर जनसेवा में लगे हैं। फिर चाहे वो स्वास्थ्य कर्मचारी हों या सफाई कर्मचारी।
पुलिस से लेकर तमाम सामाजिक संस्थाएं लोगों की मदद के लिए आगे आ रही हैं।
आनी उपमंण्डल के अंतर्गत ग्राम पंचायत बैहना के गांव तिहणी निवासी डॉ०प्रवीण चौहान कोरोना काल में अपनी सेवाएं देने में जुटे हैं । प्रवीण चौहान वर्तमान में शिमला के स्वास्थ्य केंद्र घणाहटी में तैनात है और शिमला शहर में भी कोरोना काल में अपनी सेवाएं देते रहते हैं ।
पिछले पांच महीने से सेवा करने में जुटे हैं । 3 महीने डॉ. प्रवीण ने डीसी ऑफिस तो 2 महीने शिमला शहर में सैपलिंग करने का काम किया । जब भी सैम्पलिंग करने के आदेश उच्च अधिकारियों से मिलते हैं तो डॉ.प्रवीण पूरी टीम के साथ दिन या रात सैम्पलिंग कलेक्शन के लिए पहुंच जाते हैं ।
सैंपलिंग करते डॉ प्रवीण
सैंपलिंग करते डॉ प्रवीण
ऐसे में डॉ. प्रवीण चौहान काफी समय से अपने परिवार से दूर है । गौर रहे ,प्रवीण चौहान ने शिमला से पूर्व आनी के दलाश में अपनी बेहतरीन सेवाएं दी है । 700 से ज़्यादा पुरूष नसबंदी, 30 से ज़्यादा हड्डियों के सफल ऑपरेशन के अलावा कई गंभीर बीमारियों को इन्होंने दूर किया है ।
हर रोज जान जोखिम में डालकर कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे चिकित्सकों की टीम को सलाम। इनका भी परिवार है, परेशानियां हैं। इसके बाद भी यह लोग लगातार कोरोना से लड़ रहे हैं।