हिमाचल कैबिनेट: तीन साल पूरा करने वाले कॉन्ट्रैक्ट कर्मी होंगे रेगुलर, पार्ट टाइम बनेंगे डेली वेजर

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (फाइल फोटो)

कोविड को लेकर कर्फ्यू लगाने या अधिक सख्ती का अधिकार जिला उपायुक्त खुद ले सकेंगे

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

शिमला। हिमाचल कैबिनेट की एक महत्वपूर्ण बैठक वीरवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में शिमला के होटल पीटर ऑफ में संपन्न हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। इनमें अब तीन साल पूरा करने वाले कॉन्ट्रैक्ट कर्मियों को रेगुलर करने और पार्ट टाइम कमियों को  डेली वेजर में कन्वर्ट किया जाना शामिल रहा।

इसके अलावा 31 मार्च और 30 सितंबर को 3 साल पूरा करने वाले कांटेक्ट कर्मचारी भी अब रेगुलर होंगे। जबकि 31 मार्च और 30 सितंबर को 3 साल पूरा करने वाले कॉट्रैट कर्मचारी भी रेगुलर होंगे।

ये भी पढ़ें: https://www.aadarshhimachal.com/uttarakhand-gangotri-mla-gopal-rawat-died-of-cancer-in-a-private-hospital-in-dehradun/

प्रदेश सरकार के आज लिए निर्णयों के अनुसार 8 साल पूरा करने वाले पार्ट टाइम डेली वेज में कन्वर्ट होंगे और 5 साल की सर्विस पूरी करने वाले डेली वर्कर को विभागों में रिक्त पदों के अनुसार नियमित कर दिया जाएगा।
इसके अलावा आज कोविड के मध्यनजर हिमाचल सरकार ने एक बड़ा और फैसला लेेते हुए प्रदेश में 18 से 44 साल तक के आयु वर्ग  वाले लोगों को अपने खर्च पर हिमाचल सरकार वैक्सीन लगाएगी।  प्रदेश में  एक मई से होगा यह अभियान शुरू होगा।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कैबिनेट के फैसलों के बारे में जानकारी देते हुए आगे बताया कि अब होम आइसोलेट कोविड मरीजों को स्वास्थ्य कर्मचारी घर-घर जाकर न्यूट्रिशन किट देंगे।

साथ ही सभी मंत्री भी अपने अपने क्षेत्रों के लोगों के साथ बराबर टच में रहेंगे और उनसे बात कर स्वास्थ व्यवस्थाओं का पूरा जायजा लेंगे।

अपने अपने जिलों में कोविड की स्थिति अनुसार उपायुक्त अपने अनुसार अधिक सख्ती बरतने या लॉक डाउन का फैसला ले सकेंगे।