रंधावा और सोनी ने कृषि और सहकारिता विभाग के अधिकारियों के साथ की मीटिंग

 आदर्श हिमाचल ब्यूरो
चंडीगढ़। पंजाब सरकार द्वारा नरमे की फ़सल पर गुलाबी सूंडी के हमले के कारण क्षतिग्रस्त हुई फ़सल का पता लगाने के लिए विशेष गिरदावरी के हुक्म दिए गए हैं। यह फ़ैसला आज पंजाब के उप-मुख्यमंत्री स सुखजिन्दर सिंह रंधावा और  ओ पी सोनी ने मुख्यमंत्री के निर्देशों पर कृषि और सहकारिता विभाग के उच्च अधिकारियों के साथ की मीटिंग में लिया।
मीटिंग में डी.ए.पी. और यूरिया खाद की किल्लत की स्थिति की समीक्षा की गई। मीटिंग में बताया गया कि केंद्र सरकार द्वारा पंजाब को अपेक्षित सप्लाई नहीं दी जा रही। मीटिंग में फ़ैसला किया गया कि नवंबर महीने गेहूँ की बिजाई को देखते हुए डी.ए.पी. और यूरिया खाद की सप्लाई का मामला केंद्र सरकार के खाद्य मंत्रालय के समक्ष उठाया जायेगा। मीटिंग में दोनों विभागों के साथ जुड़े अलग-अलग कार्यों की समीक्षा भी की गई।
मीटिंग में नये बने मुख्य सचिव  अनिरुद्ध तिवारी जिनके पास वित्त कमिश्नर विकास का भी प्रभार है, सहकारी सभाओं के रजिस्ट्रार  विकास गर्ग, उप-मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव और मार्कफैड के एम.डी.  वरुण रूज़म, कृषि कमिश्नर डॉ बलविन्दर सिंह सिद्धू और कृषि डायरैक्टर  सुखदेव सिंह सिद्धू भी शामल हुए।