सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का गीत-संगीत व लोक नाट्य के माध्यम से प्रचार

आदर्श हिमाचल ब्यूरो
शिमला,

सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के अंतर्गत पूजा कला मंच के कलाकारों द्वारा आज ग्राम पंचायत टनहोग सांगटी व गिर्ब, भगवती सांस्कृतिक मण्डल शंठा के कलाकारों द्वारा आज ग्राम पंचायत धार चांदना व बावत, हिम आधार लोक कला मंच के कलाकारों द्वारा आज ग्राम पंचायत कोटि तथा जयश्वरी लोक नृत्य कला मंच के कलाकारों द्वारा आज ग्राम पंचायत नोगली व शिंगला में प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का गीत-संगीत व लोक नाट्य के माध्यम से प्रचार कर लोगों को जागरूक किया।

कलाकारों ने बताया कि प्रदेश में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की गई है। उन्होंने बताया कि स्वर्ण जयंती आश्रय योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग को जिनकी वार्षिक आय 35 हजार रुपये से कम हो, जिनके नाम राजस्व रिकाॅर्ड में मकान बनाने के लिए 1 लाख 50 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता है।

कलाकारों ने बताया कि नशे को छोड़ हम न केवल अपना बल्कि समाज और प्रदेश का उद्धार करते हैं। नशा एक ऐसी बीमारी है जोकि युवा पीढ़ी को लगातार अपनी चपेट में लेकर उसे कई तरह से बीमार कर रही है। शराब, सिगरेट, तम्बाकू एवं ड्रग्स जैसे जहरीले पदार्थों का सेवन कर युवा वर्ग का एक बड़ा हिस्सा नशे का शिकार हो गया है।
नशे के दुष्परिणामों के प्रति सचेत रहकर हम शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं, जिससे देश व प्रदेश की उन्नति होगी।

इस अवसर पर कलाकारों ने उपस्थित लोगों सही तरीके से मास्क लगाने, हाथों को सैनेटाइज करने या निरंतर धोने, दो गज की दूरी के नियम को अपनाने, आवश्यकता होने पर ही घर से बाहर निकलने, अनावश्यक रूप से भीड़ न जुटाने तथा कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए वैक्सीन अवश्यक लगवाने के प्रति जानकारी व संदेश दिया।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत टनहोग के प्रधान राहुल कश्यप, ग्राम पंचायत गिर्ब के प्रधान सुरेश कुमार व वार्ड सदस्य प्रेम ठाकुर, ग्राम पंचायत संधु के उप-प्रधान प्रदीप सूद, ग्राम पंचायत नोगली की प्रधान रक्षा देवी, ग्राम पंचायत शिंगला के प्रधान राज कुमार गौतम, ग्राम पंचायत कोटि के प्रधान रमेश शर्मा, ग्राम पंचायत बावत के प्रधान अमित शर्मा तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।