राजस्व विभाग से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

????????????????????????????????????

आदर्श हिमाचल ब्यूरो
शिमला,
उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता में आज यहां बचत भवन में जिला के राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक में राजस्व विभाग से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

उन्होंने राजस्व अधिकारियों को जिला में बन रहे राजस्व सदनों के निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए ताकि विभाग को इसका लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने राजस्व अधिकारियों को बरसात के दिनों में हो रही क्षति के संदर्भ में लोगों को तुरन्त फौरी राहत प्रदान करने के निर्देश दिए तथा इसका पूरा आकलन कर कार्यालय को भेजने के निर्देश दिए।

उन्होंने अधिकारियों को मुख्यमंत्री सेवा संकल्प के अंतर्गत आ रही विभिन्न शिकायतों को तय सीमा के भीतर निपटारा करने के आदेश दिए अन्यथा कोताही बरतने वालों के खिलाफ उचित कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने बताया कि भूमिहीनों को 3 विश्वा और 2 विश्वा भूमि प्रदान करने के लिए जो आवेदन प्राप्त हुए है उन पर आगामी कार्यवाही करते हुए लंबित मामलों का 15 दिन के भीतर निपटारा किया जाए ताकि पात्र लोगों को इसका लाभ प्राप्त हो सके।

उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत की जाने वाली वसूली को प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिए ताकि गलत खातों में जमा राशि वापिस सरकार को जमा हो सके। उन्होंने अधिकारियों को जनमंच, ई-समाधान एवं अन्य माध्यमों से मिल रही समस्याओं का समयबद्ध निपटारा करने के निर्देश दिए ताकि जिला के आमजन को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।

उन्होंने बताया कि जिला के समस्त उपमण्डलाधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार द्वारा राजस्व अपील, सड़क किनारे नियंत्रण अधिनियम, सीमांकन, राजस्व प्रविष्टियों में सुधार, अतिक्रमण, परिवर्तन व बंटवारा आदि के अधिकतर मामलों का निपटारा किया जा चुका है तथा लंबित मामलों का जल्द से जल्द निपटारा करने के निर्देश दिए गए हैं।
उन्होंने जिला के समस्त राजस्व अधिकारियों को परस्पर समन्वय स्थापित कर कार्य करने का आग्रह किया ताकि प्रदेश की जन कल्याणकारी योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ प्राप्त हो सके।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को एफआरए में विभिन्न प्रावधानों के बारे में विस्तृत से अवगत करवाया।
बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (प्रोटोकाॅल) सचिन कंवल, जिला राजस्व अधिकारी शिमला संतराम, समस्त उपमण्डलाधिकारी, समस्त तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।