कोरोना अपडेट: नौ जिलों से 94 मामले, शिमला में संक्रमित पुलिस जवान के पांच परिजन, मंडी में गायनी वार्ड की नर्स सहित दस संक्रमित, कुल मामले 2270

कांगड़ा में सेना व पैरा मिलिट्री जवान, सिरमौर में 31 में से 14 महिलाएं व छह बच्चे पॉजिटिव, सक्रिय मामले हुए 1025

आदर्श हिमाचल ब्यूरो
शिमला/कांगड़ा/ऊना/बिलासपुर/सोलन/सिरमौर/मंडी/चम्बा/हमीरपुर। प्रदेश में सोमवार को नौ जिलों से 94 मामले रिपोर्ट हुए हैं। इनमे सिरमौर में 31, सोलन 15, कांगड़ा में 16, मंडी में 10, बिलासपुर 11, शिमला 5, चंबा में 3, ऊना दो और हमीरपुर में एक कोरोना पॉजिटिव मामला आया है। साथ ही आज छह जिलों से 18 मरीज ठीक भी हुए हैं। इनमे कुल्लू से छह, ऊना से चार, मंडी से तीन, चम्बा व शिमला से दो-दो और सोलन से एक मरीज शामिल हैं।
इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 2270 पहुंच गया है। 1025 सक्रिय मामले हैं। अब तक 1216 ठीक हो चुके हैं। सोमवार को 18 और मरीज ठीक हो गए हैं। कोरोना से 12 की मौत हुई है और 15 मरीज राज्य के बाहर चले गए हैं।
सिरमौर जिले के गोविंदगढ मोहल्ले नाहन में 31 नए कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। जिला दंडाधिकारी सिरमौर डॉ आरके परूथी ने बताया कि 31 पॉजिटिव मामलों में से 11 युवक/पुरुष जिनकी उम्र 15 से 68 वर्ष, 14 युवती/महिलाएं जिनकी उम्र 12 से 60 वर्ष और 6 बच्चे शामिल हैं जिनकी उम्र 2 से 8 वर्ष के बीच है। सिरमौर जिले में अब एक्टिव मामलों की संख्या 210 हो गई है।
सोलन जिले के बीबीएन में शाम को 15 नए कोरोना मामले आए हैं। सोलन नप ईओ, सेनेटरी ऑफिसर सहित छह कर्मचारी क्वारंटीन हो गए हैं। ये सभी रविवार को परवाणू में बैठक के दौरान कोरोना सक्रंमित के संपर्क में आए थे।
यह भी पढ़ें: कोरोना अपडेट: सिरमौर के गोविंदगढ़ से फिर मिले 31 मामले, चंबा मे दो साल की बच्ची व सत्तर साल की बुजुर्ग संक्रमित, पांच जिलों से 55 केसों के साथ कुल मामले पंहुचे 2231
मंडी जिले में 10 कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। इनमें बस्सी गोहर से तीन मामले, कांगू सुंदरनगर से एक, डगयाल थुनाग से एक, सरकाघाट, बगस्याड़ और नेरचौक मेडिकल कॉलेज में एक एक मामला आया है। नागरिक अस्पताल सरकाघाट में कार्यरत महिला कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव निकली है। इससे पूरी सरकाघाट नगर पंचायत में हड़कंप मच गया है।
जानकारी के मुताबिक महिला कर्मचारी का बेटा बीमार था, जिसे इलाज के लिए वह हाल ही में चंडीगढ़ लेकर गई थी। वहां से लौटने पर महिला कर्मचारी के सैंपल लिए गए थे, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
उधर, मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने महिला को कोविड केंद्र में शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। वहीं महिला कर्मचारी के निवास स्थल के आसपास के क्षेत्र को सील कर दिया गया है। महिला कर्मचारी के संपर्क में आने वाले लोगों का पता लगाया जा रहा है। वरिष्ठ मेडिकल ऑफिसर पीएल वर्मा ने इसकी पुष्टि की है। महिला कर्मचारी अस्पताल के निकट ही क्वार्टर में रहती है।
शिमला के भराड़ी में पांच नए पॉजिटिव मामले आए हैं। सभी बीते दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए पुलिस कर्मी के परिवार के सदस्य है। एसडीएम शिमला शहरी मंजीत शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।ऊना जिले में भी दो नए मामले आए हैं।
बिलापसुर जिले में कोरोना के 11 मामले एक साथ सामने आने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। सभी संक्रमित एम्स के मजदूर हैं जो बिहार से आए थे। सभी को एम्स में क्वारंटीन में रखा गया था। जिले में अब कोरोना का आंकड़ा 84 पहुंच गया है। सभी कोरोना संक्रमितों को इलाज के लिए कोविड अस्पताल चांदपुर शिफ्ट किया गया है।
उपायुक्त बिलासपुर राजेश्वर गोयल ने बताया कि पॉजिटिव आए सभी संक्रमित एम्स के मजदूर हैं। सीएमओ बिलासपुर डॉक्टर प्रकाश दड़ोच ने बताया कि सभी संक्रमितों को इलाज के लिए कोविड अस्पताल चांदपुर शिफ्ट किया गया है। उन्होंने बताया कि उक्त मामलों सहित जिला में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 84 पहुंच गया है।  इनमें से 51 संक्रमित कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं 33 संक्रमितों का कोविड केंद्र चांदपुर में इलाज चल रहा है।
यह भी पढ़ें: सेब मंडी में उचित रख-रखाव तथा उचित विपणन को लेकर नारकंडा में किसानों-बागवानों ने किया सांकेतिक प्रदर्शन
 

राजधानी के नौ वार्डों में फैला कोरोना 

Ads

10-08-2023

वहीं, राजधानी में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने लगा है। शहर के 34 में से नौ वार्डों में कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं। इन वार्डों में कई बड़े सरकारी कार्यालयों समेत 30 से अधिक भवन सील कर दिए हैं। शहर में सचिवालय, उद्योग निदेशालय के बाद अब एचपी यूनिवर्सिटी, आयकर कार्यालय, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड जैसे बड़े कार्यालय मामले सामने आने के बाद कुछ समय के लिए बंद करने पड़े हैं। कोरहोना पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आए करीब 50 से अधिक परिवार होम क्वारंटीन किए गए हैं।
शहर में बालूगंज वार्ड के बाद अब छोटा शिमला, भराड़ी, कसुम्पटी, मज्याठ, बैनमोर, इंजनघर, समरहिल और कैथू में भी कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, समरहिल वार्ड में कोई स्थानीय निवासी पॉजीटिव नहीं आया है। लेकिन वार्ड के तहत आने वाले एचपीयू का एक कर्मचारी पॉजीटिव आया है। यह कर्मी मज्याठ में रहता है। विवि में इसकी आवाजाही के बाद एचपीयू परिसर को भी बंद करना पड़ा है। कैथू पार्षद सुनील धर के अनुसार उनके वार्ड के होटल में भी एक व्यक्ति पॉजीटिव आया है। हालांकि यह होटल में खुद क्वारंटीन था।